Bewafa Shayari in Hindi

bewafa shayari in hindi 140 character

Unki »Mohabbat« Ke Nishan Abhi Baki Hain,
Naam Lab Par Hai Aur »Jaan« Abhi Baki Hai,
Kya Hua Agar Wo Dekh Kar Muhn Fer Lete Hain,
Tasalli Hai Ki Shakl Ki Pahchaan Baki Hai.

उनकी »मोहब्बत« के अभी निशान बाकी है,
नाम लब पर है और »जान« अभी बाकी है,
क्या हुआ अगर वो देख कर मुँह फेर लेते हैं,
तसल्ली है कि शक्ल की पहचान बाकी है।

Jane_lage tere sheher par tujhe »alvida« bhi na keh sake.
Teri sadhgi itni haseen thi ke tujhe »bewafa« na keh sake.
Khushi mili par hans na sake, Ghum mila par ro na sake.

जाने_लगे तेरे शेहेर पर तुझे »अलविदा« भी न कह सके.
तेरी सध्गी इतनी हसीन थी के तुझे »बेवफा«न कह सके.
ख़ुशी मिली पर हंस न सके, घूम मिला पर रो न सके.

bewafa shayri in hindi 2 lines

Wakif-Toh The Teri »Bewafai« Ki Aadat Se,
Chaha Isliye Ke Teri »Fitrat« Badal Jaye.

वाकिफ-तो थे तेरी »बेवफ़ाई« की आदत से,
चाहा इसलिए कि तेरी »फितरत« बदल जाये।

Scroll to Top